न्यूज़ ब्रेकिंग न्यूज़

झीरम मामले में कांग्रेस को बड़ा झटका, न्यायिक आयोग ने किया कांग्रेस का आवेदन निरस्त, जानिए क्या थी उनकी मांग

न्यायिक आयोग ने झीरम घाटी मामले में कांग्रेस द्वारा की गई पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह सहित बीजेपी के नेताओं के प्रतिपरीक्षण और गवाही की मांग को निरस्त कर दी है | जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा के अध्यक्षता में हुई आज सुनवाई में उन्होंने साफ कह दिया है कि झीरम मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और अन्य बीजेपी नेताओं का प्रतिपरीक्षण नहीं होगा।

– विज्ञापन –

बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने झीरम घाटी हमले की जांच के लिए पूर्व सीएम और अन्य बीजेपी नेताओं के प्रतिपरीक्षण और गवाही की मांग की थी। जिसे कोर्ट ने निरस्त कर दिया है। इस मामले की अगली सुनवाई 15 दिन बाद होनी है। बता दें कि इस मामले में दोनों पक्षों की बहस पूरी होने के बाद 4 अगस्त को जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा ने न्यायिक आयोग में यह फैसला सुरक्षित रखा था।

बता दें कि कांग्रेस परिवर्तन यात्रा के दौरान 26 मई 2013 को झीरम घाटी में नक्सलियों ने कांग्रेस के 25 नेताओं की हत्या कर दी थी। इस हमले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल, तत्कालीन पीसीसी चीफ नंदकुमार पटेल, बस्तर टाइगर महेंद्र कर्मा, उदय मुदलियार समेत 30 से ज्यादा कांग्रेसियों की हत्या कर दी गई थी | इस हमले को देश के इतिहास के सबसे बड़े नक्सली हमलों में गिना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *