मीडिया मीडिया खास

रवीश कुमार को 2019 का “रमन मैग्सेसे अवार्ड”, पत्रकारिता में दिए उत्कृष्ट योगदान का सम्मान…इससे पहले 10 पत्रकारों को मिल चूका है ये पुरस्कार, 12 साल बाद मिलेगा ये अवार्ड…कहा जाता है एशिया का नोबेल पुरस्कार

भारतीय पत्रकार रवीश कुमार को रमन मैगसायसाय पुरस्कार 2019 से शुक्रवार को सम्मानित किया गया। इस पुरस्कार को नोबेल पुरस्कार का एशियाई संस्करण माना जाता है ।
भाषा के अनुसार, प्रशस्ति पत्र में 44 वर्षीय कुमार को भारत के सबसे प्रभावी टीवी पत्रकारों में से एक बताया गया है। वह एनडीटीवी इंडिया के वरिष्ठ कार्यकारी संपादक हैं ।
उनका नाम उन पांच व्यक्तियों में शुमार है जिन्हें इस पुरस्कार का विजेता घोषित किया गया है। प्रशस्ति पत्र में कहा गया कि कुमार का कार्यक्रम ‘प्राइम टाइम’ ‘आम लोगों की वास्तविक, अनकही समस्याओं को उठाता है। साथ ही इसमें कहा गया, ‘अगर आप लोगों की अवाज बन गए हैं, तो आप पत्रकार हैं ।

– विज्ञापन –

क्या है रमन मैग्सेसे पुरस्कार
एशिया के व्यक्तियों एवं संस्थाओं को उनके क्षेत्र में विशेष रूप से उल्लेखनीय कार्य के लिए प्रदान किया जाता है। यह रमन मैग्सेसे पुरस्कार फाउंडेशन द्वारा फिलीपीन्स के भूतपूर्व राष्ट्रपति रमन मैग्सेसे की याद में दिया जाता है। यह पुरस्कार 6 श्रेणियों में दिया जाता है। ये श्रेणिया हैं- शासकीय सेवा, सार्वजनिक सेवा, सामुदायिक नेतृत्व, पत्रकारिता एवं साहित्य, शांति और उभरता नेतृत्व।

- विज्ञापन-

पत्रकारिता एवं साहित्य श्रेणी में रमन मैगसेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाले भारतीय
1. 2019- रवीश कुमार
2. 2007- पालगुम्मी साईनाथ
3. 1997- महाश्वेता देवी
4. 1992- रवि शंकर
5. 1991- के वी सुब्बना
6. 1984- राशीपुरम लक्ष्मण
7. 1982- अरुण शौरी
8. 1981- गौर किशोर घोष
9. 1975- बीजी वर्गीस
10. 1967- सत्यजित राय
11. 1961- अमिताभ चौधरी

इस साल के रमन मैगसायसाय पुरस्कार के चार अन्य विजेताओं में म्यामां के ‘को स्वे विन, थाइलैंड की ‘अंगखाना नीलापाइजित, फिलीपीन के ‘रैयमुंडो पुजंते कायाबायऐब और दक्षिण कोरिया के ‘किम जोंग की शामिल हैं । 1957 में शुरू हुए इस पुरस्कार को एशिया का सर्वोच्च सम्मान माना जाता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *