देश - विदेश

आई फ्लू को लेकर CM हाउस में आपात बैठक : CM भूपेश बघेल, डिप्टी CM TS सिंहदेव तमाम अफसरों के साथ कर रहे समीक्षा, तेजी से फैल रहे कन्जक्टिवाइटिस पर हो रही चर्चा

छत्तीसगढ़ में अचानक से बढ़े कंजक्टिवाइटिस के मामले को लेकर अब सरकार अलर्ट हो गई है, इसे लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास में एक आपात बैठक बुलाई है, फिलहाल मुख्यमंत्री निवास में ये बैठक चल रही है। बैठक में डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, मुख्यसचिव अमिताभ जैन समेत स्वास्थ्य विभाग, स्कूल शिक्षा विभाग के अफसर आई फ्लू की रोकथाम के उपायों की समीक्षा कर रहे हैं। बैठक में कंजेक्टिवाइटिस से निपटने की कार्ययोजना पर विस्तार से चर्चा चल रही है। बैठक में मुख्यमंत्री स्वास्थ्य व शिक्षा विभाग को लेकर कुछ निर्देश जारी कर सकते हैं।

आपको बता दें कि प्रदेश के स्कूली बच्चों में काफी ज्यादा कंजेक्टिवाइटिस का प्रकोप फैल रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने पिछले दिनों ही स्कूल शिक्षा विभाग व आदिम जाति कल्याण विभाग को पत्र लिखकर कंजेक्टिवाइटिस से बचने को लेकर दिशा निर्देश जारी किये थे  प्रदेशभर में बीते सप्ताहभर 19 हजार 155 मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों और जिला अस्पतालों में मोतियाबिंद के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी है। नेत्र विभाग के डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ के आंखों का चेकअप करने का निर्देश जारी किया गया है।

स्कूल और हॉस्टल्स के लिए निर्देश

स्वास्थ्य विभाग ने कंजक्टिवाइटिस की रोकथाम के लिए स्कूल शिक्षा और आदिम जाति,अनुसूचित जाति विकास विभाग के संचालक को सर्कुलर जारी किया है। स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों को इस संक्रमण के लक्षणों, उपचार और बचाव की जानकारी देने भी कहा है। आई फ्लू सम्पर्क से फैलने वाली बीमारी है जो तेजी से फैलती है। राज्य में संचालित स्कूल, आवासीय विद्यालय, आश्रम-छात्रावास और हास्टल में छात्र-छात्राएं समूह में रहते हैं जिनमें यह बीमारी फैल सकती है। उन्होंने दोनों विभागों में संचालित संस्थाओं में इसकी रोकथाम के लिए जरूरी निर्देश जारी किए जाने को कहा है।

Back to top button
close