देश - विदेश
Trending

CM की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक : कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर होगी चर्चा, सरकार के मंत्रीगण, वरिष्ठ अफसरों हैं मौजूद

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज यहां उनके निवास कार्यालय में आयोजित कैबिनेट की बैठक शुरू हो गई है । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक शुरू हो गई है । इसमें स्कूलों-कॉलेजों को फिर से खोलने के संबंध में कोई फैसला हो सकता है । ग्रामीण क्षेत्रों में प्रधानमंत्री आवास के रुके हुए काम को फिर से शुरू करने के उपायों पर भी चर्चा होगी ।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक में अनेक प्रस्तावों पर चर्चा हो रही है। इस बैठक में मंत्रीगण, वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गणतंत्र दिवस समारोह में कई घोषणाएं की थी। मसलन, कर्मचारियों के लिए फाइव डे वीक, पेंशन में राज्य सरकार का हिस्सा बढ़ाकर 10 से 14 फीसदी करने, अनियमित निर्माणों को नियमित करने समेत विभन्न योजनाओं को हरी झंडी दी जाएगी। इसके अलावा भी कुछ अहम फैसले हो सकते हैं।”

बताया जा रहा है, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग साल 2018-19 और 2019-20 के रुके काम के लिए 1500 करोड़ से अधिक का कर्ज लेने का प्रस्ताव ला रही है। अगर इसे मंजूरी मिलती है तो अधूरी योजना को पूरा होने का रास्ता बनेगा। राज्य मंत्रिपरिषद के सामने सरकारी कार्यालयों में पांच दिन के वर्किंग वीक का भी प्रस्ताव भी है। मुख्यमंत्री ने 26 जनवरी को इसकी घोषणा की थी। अब उसको अनुमोदन के लिए मंत्रिपरिषद के सामने लाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति के प्रस्ताव पर भी चर्चा होनी है। बैठक में बजट प्रस्तावों पर भी चर्चा होगी।

Sahu Ashish

आशीष साहू ने लिखने-पढ़ने की अपनी अभिरुचि के चलते पत्रकारिता का रास्ता चुना। पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल करने के बाद जुलाई 2012 में दैनिक हिंदी हरिभूमि में बतौर ट्रेनी सब एडिटर दाखिला हो गया | वहां के बाद अक्टूबर 2016 से सीजी न्यूज़ 24 डॉट कॉम टीम का हिस्सा बन गए। यहां फिलहाल संपादक के पद पर तैनाती है। बिलासपुर के रहने वाले हैं और शुरुआती पढ़ाई वहीं हुई। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय से कम्प्यूटर में स्नातक की डिग्री है। साहित्यिक अभिरूचियां हैं। कविता-उपन्यास पढ़ना पसंद है। इतिहास के विषय पर बनी फिल्में देखने में दिलचस्पी है। थोड़ा-बहुत गीत-संगीत की दुनिया से भी वास्ता है।
Back to top button
close