छत्तीसगढ़ खबरें
Trending

CG School Education News : खराब रिजल्ट वाले प्राचार्यों की अब खैर नहीं, स्कूल शिक्षा के सचिव ने बोर्ड सचिव से मांगी रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ में शिक्षण प्रणाली को सुधारने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। सरकारी स्कूलों के परिणामों को लेकर विभाग ने अब एक्शन लेना शुरू कर दिया है। विभाग के सचिव सिद्धार्थ परदेशी ने माध्यमिक शिक्षा मंडल की सचिव पुष्पा साहू को पत्र लिखा है, जिसमें विशेष रूप से बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट को लेकर पूछा गया है. इसके अलावा, विभाग ने प्रदेश के सभी सरकारी हाई स्कूलों और हायर सेकंडरी स्कूलों के 10 वीं और 12 वीं वर्गों का रिजल्ट मांगा है। बताया जा रहा है कि स्कूलों के प्राचार्यों को CG स्कूल एजुकेशन (CG School Education) से अनुरोध किया जाएगा जिनके परिणाम कमजोर होंगे।

विश्लेषण के बाद तलब होंगे प्राचार्य

जिन स्कूलों का रिजल्ट खराब होगा, उनका विश्लेषण किया जा रहा है। विद्यालयों के शिक्षकों से उत्तर मांगे जाएंगे। उनसे पूछा जाएगा कि रिजल्ट खराब क्यों हुआ? इसमें कौन दोषी है? इसमें शिक्षक भी अपने स्कूलों में शिक्षकों की समस्याओं और कमियों का उल्लेख कर सकते हैं। यहां बता दें कि सरकार ने शिक्षकों के वेतन पर पर्याप्त धन खर्च किया है और शिक्षकों की मांगों के अनुसार सामग्री दी है। ऐसे में, खराब रिजल्ट के कारण अब शिक्षकों पर दबाव है।

कलेक्टर से बात कर लाएंगे सुधार

शिक्षा विभाग के सचिव सिद्धार्थ परदेशी ने कहा कि इससे पता चलेगा कि किस स्कूल का प्रदर्शन है? इससे प्राचार्यों की भूमिका भी निर्धारित होगी। जिन स्कूलों का रिजल्ट खराब होगा, उन्होंने कहा, उस जिले के कलेक्टर से बातचीत करके उन स्कूलों का रिजल्ट बेहतर कैसे बनाया जाएगा?

कलेक्टर करेंगे रिव्यू

इससे पहले (CG School Education) छत्तीसगढ़ के स्कूल शिक्षा विभाग में क्वालिटी एजुकेशन पर काम करना प्रारंभ किया। जिसके तहत राइट टू एजुकेशन के साथ मोटी फीस और कमीशन को लेकर प्राइवेट स्कूलों को निर्देश दिए गए। जिसके बाद कलेक्टर्स को प्राइवेट स्कूलों की मीटिंग लेकर राइट टू एजुकेशन कर रिव्यू करने के लिए कहा गया।

Back to top button
close