छत्तीसगढ़ खबरें

CG Liquor Scam : CG शराब घोटाला को लेकर EOW ने किया बड़ा खुलासा, डुप्लीकेट होलोग्राम बनाने वाली कंपनी के स्टेट हेड को गिरफ्तार, EOW ने हार्ड ड्राइव किया जब्त

CG Liquor Scam. छत्तीसगढ़ के चर्चित शराब घोटाले मामले में ईओडब्ल्यू की टीम ने नकली होलोग्राम की सप्लाई करने वाले प्रिज्म होलोग्राफी सिक्योरिटी फिल्म्स प्रालिमि के स्टेट हेड दिलीप पांडे को गिरफ्तार किया है, EOW ने होलोग्राम के प्रिंटिंग के सेटअप से जुडी इंडस्ट्रीयल कम्प्यूटर के हार्ड ड्राइव को भी जब्त किया है।

बता दें कि पूर्व कांग्रेस सरकार के दौरान हुए कथित शराब घोटाले की जाँच के दौरान EOW को टीम ने मंगलवार को नकली होलोग्राम की सप्लाई करने वाले प्रिज्म होलोग्राफी सिक्योरिटी फिल्म्स प्रालिमि के स्टेट हेड दिलीप पांडे को गिरफ्तार किया है, इसके साथ ही ेऊ ने आरोपी के नवा रायपुर स्थित जीएसटी भवन आफिस के भूतल-कक्ष में होलोग्राम प्रिंटिंग के सेटअप से जुड़े हुए इंडस्ट्रीयल कम्प्यूटर के हार्ड ड्राइव को, जिसके माध्यम से डुप्लीकेट होलोग्राम के सीरियल नंबरों की छपाई की गई थी, उसे विधिवत वीडियोग्राफी कराकर जब्त किया गया है।

CG Liquor Scam. ईओडब्ल्यू से मिली जानकारी के अनुसार प्रिज्म कंपनी के नोएडा स्थित मुख्यालय से डुप्लीकेट होलोग्राम छपवाकर उसे रायपुर लाया जाता था। इसके परिवहन के लिए दस्तावेज, नकली होलोग्राम की संख्या और विवरण दिलीप पांडेय की निशानदेही पर बरामद किए हैं। साथ ही, दस्तावेजी साक्ष्य का परीक्षण किया जा रहा है। बता दें कि 2500 करोड़ के आबकारी घोटाले की इस समय ईडी के साथ ही ईओडब्ल्यू के अधिकारी भी जांच कर रहे हैं।  इस मामले में EOW की टीम लगातार कार्रवाई कर रहे है ।

ईओडब्ल्यू ने जारी प्रेस रिलीज में बताया है कि गिरफ्तार किए गए दिलीप पांडे ने पूछताछ में सिंडीकेट बनाना स्वीकार किया है। साथ ही, इसका मुख्य खिलाड़ी अनिल टुटेजा, अनवर ढेबर, अरूणपति त्रिपाठी बताया हैं। वहीं, प्रिज्म होलोग्राफी के मालिक विधु गुप्ता द्वारा 2019 से 2022 के बीच तक फर्जी होलोग्राम छत्तीसगढ़ स्थित डिस्टलरियों को उपलब्ध कराना बताया है। फिलहाल गिरफ्तार किए गए आरोपी से मिली जानकारी के आधार पर प्रकरण की जांच की जा रही है। बता दें कि 2500 करोड़ के आबकारी घोटाले की इस समय ईडी के साथ ही ईओडब्ल्यू के अधिकारी भी जांच कर रहे हैं ।

 

 

Back to top button
close