छत्तीसगढ़ खबरें

बृजमोहन का बिलासपुर में आतिशी स्वागत : स्वदेशी मेला में शामिल होने पहुंचे शहर, बोले – बिलासपुर मेरे लिये शुभ, निकलते समय मुझे सूचना मिली कल शपथ लेना है

बिलासपुर। साइंस कॉलेज मैदान सरकंडा में चल रहे स्वदेशी मेले के आखिरी दिन गुरुवार को केश सज्जा प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमेंं प्रतिभागियों ने ब्राइडल सहित अन्य कई तरह के जुड़े सजाए। उसे बटरफ्लाई, कलरफूल पिन लगाकर डेकोरेट भी किया। इसका निर्णायकों सहित उपस्थित सभी महिलाओं ने अवलोकन कर उनकी केश कला की सराहना की।

रात्रि में विधायक बृजमोहन अग्रवाल के मुख्य आतिथ्य में मेले का समापन हुआ। विधायक बनने के बाद उनके पहली बार शहर आगमन पर जगह-जगह बाजे-गाजे एवं आतिशबाजी के साथ स्वागत हुआ। इसके बाद मेला स्थल पहुंचे। यहां भी उनका फूल माला से भव्य स्वागत किया गया। उनके मुख्य आतिथ्य में मेले का समापन हुआ।

केश सज्जा प्रतियोगिता एक ही वर्ग में आयोजित थी। इसमें प्रतिभागियों ने उत्साह से भाग लिया एवं अपनी कला प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए एक से बढ़कर एक जुड़े सजाए। कॉलेज छात्रा चेतना सिंह ने गुलाब चोटी बनाई। इसमें उन्होंने बाल से ही चोटी में गुलाब-गुलाब बनाकर उसे सजाया था। यह पार्टी वियर डिजाइन है जिसे शादी या किसी खास अवसर पर महिलाएं, युवतियां बनवाती हैं। प्राची विश्वकर्मा ने ब्राइडल जूड़े सजाए। यह जूड़ा पार्टी वैगरह में ज्यादातर बनवाए जाते हैं। प्राची को विविध तरह के जूड़े बनाने का बड़ा शौक है। उसने व्यापार मेले में होने वाले हरिभूमि की मेहंदी प्रतियोगिता से भाग लेना शुरू किया है। उसे पुरस्कार भी मिला है। निर्णायकों में रीता ताण्डी एवं रहमत निशा शामिल रहीं। इस मौके पर अरूणा दीक्षित, नीता श्रीवास्तव, किरण मेहता, शोभा कश्यप, मीना गोस्वामी, चंचल, चंदना गोस्वामी, किरण, सृष्टि सिंह, पूनम, निधि तिवारी सहित अन्य सदस्यों की उपस्थिति रही।

दर्शनीय रहा बैलून हेयर स्टाइल

प्रतिभागी सीमा नेताम श्रीवास्तव ने बैलून हेयर स्टाइल में चोटी सजाई। इसे रंग-बिरंगे कलर के बटरफ्लाई पिन एवं क्लीप से डेकोरेट करने पर काफी दर्शनीय लग रही थी। सीमा ने बताया कि इसे पुलिंग सिस्टम से बनाया जाता है। बनने के बाद यह स्टाइल काफी आकर्षक लगता है।

नेचुरल हेयर स्टाइल की चोटी

मधु सोनी ने नेचुरल हेयर स्टाइल में चोटी बनाई थी। इसे महाराष्ट्रीयन ब्राईडल हेयर स्टाइल भी कहा जाता है। डेकोरेशन करने के बाद काफी अच्छा लग रहा था। चांदनी यादव, धनमती एवं साक्षी टेकाम के सिंपल चोटी भी पसंद किए गए।

रही भारी भीड़, जमकर की गई खरीददारी

मेले के आखिरी दिन गुरूवार को मेले में भारी भीड़ रही। महिलाओं, बच्चों एवं पुरूषों का स्वेटर में ऑफर चल रहा था। इसके चलते मात्र 100 से साढ़े तीन सौ रूपए में स्वेटर बिका। इसकी खरीददारी करने भीड़ उमड़ पड़ी थी। अन्य आयटमों को खरीदने देर रात तक मेले में हलचल होती रही।

विजेताओं को बांटे गए पुरस्कार

कार्यक्रम हुआ। आयोजकों ने मेला के दौरान हुई विविध प्रतियोगिताओं के विजेताओं की

घोषणा की। फिर सभी विजेताओं को मुख्य अतिथि श्री अग्रवाल के हाथों पुरस्कार का वितरण किया गया। मंचीय कार्यक्रम में लोरमी पंडरिया के नरेंद्र यादव व टीम के कलाकारों ने पारंपरिक वेश में नाचा एवं सेंदरी की टीम ने पंथी नृत्य पेश किया। कार्यक्रम का संचालन अभिजीत मित्रा ने किया। इस मौके पर तुषार पानसे, धीरज बाजपेयी, सुब्रत चाकी, जीआर जगत, अर्णव चौधरी सहित अन्य सदस्यों की उपस्थिति रही।

Sahu Ashish

आशीष साहू ने लिखने-पढ़ने की अपनी अभिरुचि के चलते पत्रकारिता का रास्ता चुना। पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल करने के बाद जुलाई 2012 में दैनिक हिंदी हरिभूमि में बतौर ट्रेनी सब एडिटर दाखिला हो गया | वहां के बाद अक्टूबर 2016 से सीजी न्यूज़ 24 डॉट कॉम टीम का हिस्सा बन गए। यहां फिलहाल संपादक के पद पर तैनाती है। बिलासपुर के रहने वाले हैं और शुरुआती पढ़ाई वहीं हुई। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय से कम्प्यूटर में स्नातक की डिग्री है। साहित्यिक अभिरूचियां हैं। कविता-उपन्यास पढ़ना पसंद है। इतिहास के विषय पर बनी फिल्में देखने में दिलचस्पी है। थोड़ा-बहुत गीत-संगीत की दुनिया से भी वास्ता है।
Back to top button
close