देश - विदेश
Trending

Big Breaking : पवन खेड़ा को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार, दिल्ली की अदालत में होगी पेशी, 15 FIR हैं दर्ज

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा को असम पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया. अब उन्हें दिल्ली की एक अदालत में पेश किया जाएगा, जहां से कांग्रेस प्रवक्ता को ट्रांजिट रिमांड पर असम ले जाया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिता पर टिप्पणी के मामले में पवन खेड़ा पर असम के 15 जिलों में 15 मुकदमे दर्ज हैं.

इससे पहले कांग्रेस ने आरोप लगाया कि उसके मीडिया विभाग के प्रमुख पवन खेड़ा को दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर रायपुर जाने वाली उड़ान से नीचे उतार दिया गया. पार्टी प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने सवाल किया कि किस आधार पर खेड़ा को नीचे उतारा गया है और देश में कानून का कोई राज है या नहीं. यह घटना इंडिगो की विमान संख्या 6 ई 204 में हुई और विरोध में कांग्रेस के कई नेता विमान से नीचे उतर गए.

Pawan Khera Arrest News LIVE Update

असम पुलिस ने कांग्रेस नेता पवन खेड़ा को गिरफ्तार कर लिया है. उन्हें दिल्ली की एक अदालत में पेश किया जाएगा और फिर ट्रांजिट रिमांड पर असम ले जाया जाएगा.

-दिल्ली हवाईअड्डे पर एक विमान से उतारे जाने के बाद कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा, ‘हम देखेंगे (वे मुझे किस मामले में ले जा रहे हैं). यह एक लंबी लड़ाई है और मैं लड़ने के लिए तैयार हूं.’

#WATCH | “We will see (in which case they are taking me). It’s a long battle and I’m ready to fight,” says Congress leader Pawan Khera as Delhi Police takes him after he was deboarded from an aircraft at Delhi airport pic.twitter.com/cKXeo6kSb4

— ANI (@ANI) February 23, 2023

असम के दीमा हसाओ जिले के हाफलोंग थाने में कांग्रेस नेता पवन खेड़ा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. असम के पुलिस महानिरीक्षक (लॉ एंड ऑर्डर) और प्रवक्ता प्रशांत कुमार भुइयां ने एएनआई से कहा, ‘मामले के सिलसिले में पवन खेड़ा की रिमांड लेने के लिए असम पुलिस की एक टीम दिल्ली रवाना हो चुकी है. हमने दिल्ली पुलिस से पवन खेड़ा को गिरफ्तार करने का अनुरोध किया है. स्थानीय अदालत से अनुमति लेने के बाद हम उन्हें असम लाएंगे.’

दिल्ली पुलिस की तरफ से भी इस मामले में बयान जारी किया गया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने कहा कि कांग्रेस नेता पवन खेड़ा को दिल्ली हवाईअड्डे पर विमान में सवार होने से रोक दिया गया क्योंकि असम पुलिस ने उन्हें रोकने का अनुरोध किया था.

पार्टी प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा, ‘पवन खेड़ा को असम पुलिस गिरफ्तार करके ले जा रही है. उन्होंने कौन सा ऐसा जुर्म किया है कि उन्हें गिरफ्तार किया गया? ये तानाशाही नहीं तो और क्या है?’

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने इस बारे में कहा, ‘मुझे बताया गया है कि मेरे सामान को लेकर कुछ समस्या है, जबकि मेरे पास केवल एक हैंडबैग है. जब फ्लाइट से नीचे आया तो बताया गया कि आप नहीं जा सकते हैं. फिर कहा गया- आपसे डीसीपी मिलेंगे. मैं काफी देर से इंतजार कर रहा हूं. नियम, कानून और कारणों का कुछ अता-पता नहीं है.’

रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘आज हम सभी इंडिगो की फ्लाइट से रायपुर जा रहे थे, तभी हमारे साथी पवन खेड़ा को झूठ बोलकर फ्लाइट से उतार दिया गया. पुलिस ने हमें बताया कि असम पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है, लेकिन पुलिस के पास किसी भी प्रकार का कोई लिखित गिरफ्तारी आर्डर नहीं है.’

कांग्रेस ने कहा, ‘आज इंडिगो की फ्लाइट 6E-204 से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिल्ली से रायपुर जा रहे थे. सभी फ्लाइट में बैठ चुके थे, उसी वक्त हमारे नेता पवन खेड़ा को फ्लाइट से उतरने को कहा गया. ये तानाशाही रवैया है. अधिवेशन से पहले ईडी के छापे मरवाए और अब इस तरह की हरकत.’

दरअसल, रायपुर में शुक्रवार से कांग्रेस पार्टी का महाधिवेशन होने वाला है. इसी सिलसिले में पवन खेड़ा पार्टी के अन्य नेताओं के साथ रायपुर जाने वाली फ्लाइट पकड़ने के लिए दिल्ली के आईजीआई हवाईअड्डे पर पहुंचे थे. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस के सत्र को बाधित करने का यह प्रयास है, ठीक वैसे ही जैसे ईडी का छापा 20 फरवरी को मारा गया था.

Sahu Ashish

आशीष साहू ने लिखने-पढ़ने की अपनी अभिरुचि के चलते पत्रकारिता का रास्ता चुना। पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल करने के बाद जुलाई 2012 में दैनिक हिंदी हरिभूमि में बतौर ट्रेनी सब एडिटर दाखिला हो गया | वहां के बाद अक्टूबर 2016 से सीजी न्यूज़ 24 डॉट कॉम टीम का हिस्सा बन गए। यहां फिलहाल संपादक के पद पर तैनाती है। बिलासपुर के रहने वाले हैं और शुरुआती पढ़ाई वहीं हुई। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय से कम्प्यूटर में स्नातक की डिग्री है। साहित्यिक अभिरूचियां हैं। कविता-उपन्यास पढ़ना पसंद है। इतिहास के विषय पर बनी फिल्में देखने में दिलचस्पी है। थोड़ा-बहुत गीत-संगीत की दुनिया से भी वास्ता है।
Back to top button
close