द बाबूस न्यूज़द ब्यूरोक्रेट्स

नंगे पांव तपती धूप में चल रही थी लड़की, IAS ने खुद पहनाई चप्पल, लोगों ने की सराहना….अब सोशल मीडिया में वायरल हो रही तस्वीर

पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है और इस वजह से हजारों प्रवासी मजदूर अपने घर के लिए पैदल सफर कर रहे हैं। यह मजदूर अपने घर वापस लौटने के लिए कई किलोमीटर पैदल चलने को मजबूर हो गए हैं। इस दौरान कई ऐसे लोग हैं जो आज भी इंसानियत को जिन्दा रखे हुए हैं और इन प्रवासी मजदूरों की मदद कर रहे हैं। इस मजदूरों के पास न तो खाने के लिए खाना है न ही कपड़े हैं और कई मजदूरों की पैदल चलने के कारण चप्पलें भी टूट चुकी हैं। वह चिलचिलाती गर्मी में नंगे पैर सड़कों पर चल रहे हैं। इसी बीच गोरखपुर से एक मामला सामने आया है।

कुछ प्रवासी मजदूर गोरखपुर की सीमा पर जुटे हुए थे और उस दौरान वहां पर संयुक्‍त मजिस्‍ट्रेट अनुज मलिक ने एक लड़की को देखा जिसके पैरों में चप्पल नहीं थी और वह इस चिलचिलाती गर्मी में सड़क पर नंगे पैर खड़ी हुई थी। तभी आईएएस अनुज मलिक ने उस लड़की के लिए चप्पल मंगवाई। 

खबरों के मुताबिक, महिला आईपीएस अधिकारी ने जिस लड़की को चप्पल पहनाई उसका नाम श्रेया बताया जा रहा है। दरअसल वह अपने परिवार के साथ बिहार जा रही थी और गोंडा से पूरा परिवार पैदल चलकर आ रहा था। उस लड़की की चप्पल रास्ते में पैदल आते समय टूट गयी थी। 

उसके बाद जिन प्रवासी मजदूरों की चप्पलें नहीं थी उन्हें अधिकारियों ने चप्पल दीं। साथ ही उन लोगों को पानी की बोतलें भी दीं। बता दें कि गृहमंत्रालय और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के आदेश के अनुसार किसी भी मजदूर को पैदल, साइकिल, बाइक या ट्रक आदि से जाने पर रोककर उनके जाने की पूरी व्यवस्था करी जा रही है। इसी वजह से इन मजदूरों को यहां रोका गया और जाने की व्यवस्था की गयी। 

लगभग दो हजार प्रवासी मजदूर बीवी-बच्‍चों के साथ कुछ देर बाद यहां पर आ गए। इन लोगों के जाने के लिए बसों का प्रबंधन नहीं हो पाया जिसके बाद इन्हें ट्रकों में भेजा गया। जो ट्रक सामन लादकर जा रहे थे उनपर इन्हें भेजा गया। इस दौरान कुछ मजदूर चोटिल भी ट्रकों पर जल्‍दी सवार होने के चककर में हो गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close