द बाबूस न्यूज़
Trending

एक महिला IPS की दिलचस्प कहानी : 6 नौकरियां छोड़कर IPS बनीं, दो बार एक ही BJP मंत्री से भिड़ी….जानिए कौन हैं ये आईपीएस अफसर

हरियाणा सरकार के चर्चित मंत्री अनिल विज से दो बार विवादों के कारण चर्चा में रहीं IPS अधिकारी संगीता कालिया को लोग उनके कड़े तेवर के लिए जानते हैं. इन दिनों संगीता रेलवे में एसपी के पद पर तैनात हैं.

हरियाणा की महिला आईपीएस संगीता कालिया की कहानी बहुत दिलचस्प है, उनके पिता पुलिस विभाग में कारपेंटर थे, संगीता कालिया छह नौकरियां छोड़कर आईपीएस बनीं. एसपी पद पर रहते हुए दो बार एक ही बीजेपी मंत्री से भिड़ी और इसके लिए उन्होंने सजा भी भुगती. संगीता कालिया भिवानी जिले के एक साधारण परिवार में जन्मी. कुछ अलग करने का सपना देखा और उसे पूरा किया |

बहुत कम लोग ये जानते होंगे कि जिस पुलिस विभाग में उसके पिता कारपेंटर हुआ करते थे, उसी विभाग में बतौर एसपी उनकी पहली पोस्टिंग हुई थी. बता दें कि आईपीएस संगीता कालिया के पिता धर्मपाल फतेहाबाद पुलिस में कार्यरत थे और 2010 में वहां से रिटायर हुए. संगीता ने अपनी पढ़ाई भिवानी से की और 2005 में पहली बार यूपीएससी परीक्षा दी. 2009 में तीसरे प्रयास में परीक्षा पास हुई |

ये सीरियल देख कर मिली प्रेरणा
संगीता कालिया के मुताबिक, उन्हें पुलिस में आने की प्रेरणा उड़ान सीरियल देख कर और उनके पिता से मिली है. उनके पति विवेक कालिया भी हरियाणा में एचसीएस हैं. संगीता कालिया वो शख्सियत है, जो छह नौकरियों के ऑफर को छोड़कर पुलिस विभाग में आईं |

अनिल विज से हुआ था विवाद
संगीता कालिया का वर्ष 2018 में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से विवाद हुआ था. तब भी वह चर्चा में रहीं. अनिल विज फतेहाबाद में कष्ट निवारण समिति की बैठक ले रहे थे. नशे की बिक्री संबंधित एक शिकायत पर विज ने संगीता कालिया से जवाब मांगा. तब संगीता कालिया ने जवाब दिया कि हमने शराब तस्करों पर साल में ढाई हजार मामले दर्ज कर दिए. पुलिस किसी को गोली तो मार नहीं सकती. इसी बात पर विज व संगीता कालिया के बीच कहासुनी हुई, जिसके बाद बैठक बीच में ही रोकनी पड़ी थी.

दो बार विज से लिया पंगा
एक बार फिर वैसा ही मामला हुआ. मंत्री विज से भिड़ने के बाद संगीता कालिया रेवाड़ी से ट्रांसफर होकर पानीपत आईं और अब पानीपत में फिर से उनका सामना मंत्री अनिल विज से हो गया. यही नहीं, वे फिर से मंत्री के गुस्से का शिकार हो गई. उन्होंने एसपी साहिबा की शिकायत सीएम खट्टर से कर दी. एसपी कालिया का सवा दो महीने के अंदर दोबारा से ट्रांसफर कर दिया गया था.

अब रेलवे में हैं एसपी
बता दें कि आईपीएस संगीता कालिया मूलरूप से भिवानी जिले की रहने वाली हैं. फतेहाबाद के बाद उनका तबादला रेवाड़ी किया गया. उसके बाद कुछ समय तक भिवानी व पानीपत में रहीं. अब वह रेलवे में एसपी के तौर पर कार्यरत हैं.

Sahu Ashish

आशीष साहू ने लिखने-पढ़ने की अपनी अभिरुचि के चलते पत्रकारिता का रास्ता चुना। पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल करने के बाद जुलाई 2012 में दैनिक हिंदी हरिभूमि में बतौर ट्रेनी सब एडिटर दाखिला हो गया | वहां के बाद अक्टूबर 2016 से सीजी न्यूज़ 24 डॉट कॉम टीम का हिस्सा बन गए। यहां फिलहाल संपादक के पद पर तैनाती है। बिलासपुर के रहने वाले हैं और शुरुआती पढ़ाई वहीं हुई। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय से कम्प्यूटर में स्नातक की डिग्री है। साहित्यिक अभिरूचियां हैं। कविता-उपन्यास पढ़ना पसंद है। इतिहास के विषय पर बनी फिल्में देखने में दिलचस्पी है। थोड़ा-बहुत गीत-संगीत की दुनिया से भी वास्ता है।
Back to top button
close