राजनीति
Trending

ब्रेकिंग : जिलों का प्रभार बदलने के बाद TS सिंहदेव का बयान – पहले 12 विधानसभा थे मेरे प्रभार वाले जिले में, अब केवल 5 हैं….जहां खड़े होने बोलेंगे खिलाड़ी की तरह खड़े होकर काम करूंगा…

जहां खड़े होने बोलेंगे खिलाड़ी की तरह खड़े होकर काम करूंगा. क्रिकेट का उदाहरण देते हुए बताया कि बाउंड्री में कहेंगे तो बाउंड्री में, स्लिप में कहेंगे तो स्लिप में, लॉन्ग ऑन में कहेंगे तो लॉन्ग ऑन में खड़ा हो जाऊंगा.

मंत्रियों के प्रभार वाले जिलों में हुए फेरबदल में मंत्री टीएस सिंहदेव और गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का कद बेहद कम कर दिया गया । मंत्री सिंहदेव ने कहा रूखे अंदाज में कहा कि पहले मेरे पास साढ़े 12 विधानसभा क्षेत्र था, अब 5 विधानसभा क्षेत्र के ज़िलों का प्रभार है. मुझे जहाँ बोलेंगे मैं काम करूंगा. जहां खड़े होने बोलेंगे खिलाड़ी की तरह खड़े होकर काम करूंगा. क्रिकेट का उदाहरण देते हुए बताया कि बाउंड्री में कहेंगे तो बाउंड्री में, स्लिप में कहेंगे तो स्लिप में, लॉन्ग ऑन में कहेंगे तो लॉन्ग ऑन में खड़ा हो जाऊंगा.

मंत्री सिंहदेव ने कहा रूखे अंदाज में कहा कि –

पहले मेरे पास साढ़े 12 विधानसभा क्षेत्र था, अब 5 विधानसभा क्षेत्र के ज़िलों का प्रभार है. मुझे जहाँ बोलेंगे मैं काम करूंगा. जहां खड़े होने बोलेंगे खिलाड़ी की तरह खड़े होकर काम करूंगा. क्रिकेट का उदाहरण देते हुए बताया कि बाउंड्री में कहेंगे तो बाउंड्री में, स्लिप में कहेंगे तो स्लिप में, लॉन्ग ऑन में कहेंगे तो लॉन्ग ऑन में खड़ा हो जाऊंगा….

आपको बता दें कि टीएस सिंहदेव के पास अब तक जांजगीर, बलौदाबाजार और मुंगेली जैसे जिलों की जिम्मेदारी थी । जांजगीर और बलौदाबाजार जैसे बड़े जिलों की जिम्मेदारी संभालने वाले सिंहदेव के बाद अब बेमेतरा और कबीरधाम जैसे छोटे-छोटे जिलों का प्रभार दिया गया है । इसी तरह से ताम्रध्वज साहू के बिलासपुर और गरियाबंद जैसे बड़े जिलों की जिम्मेदारी वापस ले ली गई है, वहीं उन्हें महासमुंद और कोरिया का प्रभार दिया गया । जबकि अन्य मंत्रियों की बात करें को कवासी लखमा को पांच जिलों का इंचार्ज बनाया गया, जबकि जयसिंह को बिलासपुर, जांजगीर और जीपीएम, उमेश पटेल के पास पहले बलरामपुर, रामानुजगंज व सूरजपुर की जिम्मेदारी थी, लेकिन बदलाव में उन्हें बलौदाबाजार, भाटापारा, बालोद व जशपुर, जबकि अमरजीत भगत से जशपुर और बालोद जिला लेकर राजनांदगांव और गरियाबंद जिला दिया गया है। वहीं मंत्री रविंद्र चौबे को फिर से रायपुर का प्रभार सौंपा गया है।

वहीं इस मामले पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक का बयान भी सामने आया है, उन्होंने मंत्रियों के प्रभार जिले बदले जाने पर कहा कि ‘छत्तीसगढ़ सरकार पूरी तरह से फेल है, चाहे कुछ भी करें, कुछ नहीं होगा। यह पहली सरकार है जिसके मंत्री कोविड संकट में घरों में बैठे रहें, हर तरफ से सरकार नाकाम हो गई है ।

इन मंत्रियों के प्रभार जिले बदले गए
टीएस सिंहदेव- बेमेतरा, कबीरधाम
ताम्रध्वज साहू- महासमुंद, कोरिया
रविन्द्र चौबे- रायपुर
प्रेमसाय सिंह टेकाम- रायगढ़, कोरबा
मोहम्मद अकबर- दुर्ग
कवासी लखमा- बस्तर, दंतेवाड़ा, बीजापुर, कोंडागांव, नारायणपुर
शिव डहरिया- सरगुजा, बलरामपुर, सुरजपुर
अनिला भेड़िया- कांकेर, धमतरी
गुरू रूद्र कुमार- मुंगेली, सुकमा
जयसिंह अग्रवाल- बिलासपुर, जांजगीर, पेंड्रा
उमेश पटेल- बलौदाबाजार, बालोद, जशपुर
अमरजीत भगत- राजनांदगांव, गरियाबंद

Sahu Ashish

आशीष साहू ने लिखने-पढ़ने की अपनी अभिरुचि के चलते पत्रकारिता का रास्ता चुना। पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल करने के बाद जुलाई 2012 में दैनिक हिंदी हरिभूमि में बतौर ट्रेनी सब एडिटर दाखिला हो गया | वहां के बाद अक्टूबर 2016 से सीजी न्यूज़ 24 डॉट कॉम टीम का हिस्सा बन गए। यहां फिलहाल संपादक के पद पर तैनाती है। बिलासपुर के रहने वाले हैं और शुरुआती पढ़ाई वहीं हुई। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय से कम्प्यूटर में स्नातक की डिग्री है। साहित्यिक अभिरूचियां हैं। कविता-उपन्यास पढ़ना पसंद है। इतिहास के विषय पर बनी फिल्में देखने में दिलचस्पी है। थोड़ा-बहुत गीत-संगीत की दुनिया से भी वास्ता है।
Back to top button
close