राजनीति

ढाई-ढाई साल के सीएम : छत्तीसगढ़ के सियासी गलियारें में “17 जून” की चर्चाएं तेज़…. बघेल के पूरे हो रहे ढाई साल, सिंहदेव की दावेदारी की चर्चा, बढ़ सकती है कांग्रेस की मुश्किल

छत्तीसगढ़ में इन द‍िनों कुछ भी सही नहीं चल रहा है. पंजाब में मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमर‍िंदर स‍िंह और पार्टी व‍िधायक नवजोत सिंह स‍िद्धू के बीच जारी स‍ियासी घमासान अभी शांत भी नहीं हुआ है. वहीं दूसरी तरफ छत्‍तीसगढ़ कांग्रेस में भी राजनीत‍ि गरमाई हुई है. 17 जून को बतौर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ढाई साल की पारी पूरी करने जा रहे हैं, जिसके बाद सियासी गलियारों में फिर एक बार ढाई-ढाई साल के फार्मूले को लेकर चर्चा शुरू हो गई है. मंत्री टीएस सिंहदेव का नाम फिर से चर्चा में है ।

मीड‍िया र‍िपोटर्स के मुताब‍िक, 16 द‍िसंबर 2018 को जब मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल के नाम का ऐलान हुआ था तो वह एक फार्मूले के तहत क‍िया गया था. इसमें छत्तीसगढ़ में सीएम पर ढाई-ढाई साल का फार्मूला लाया गया था. र‍िपोटर्स के मुताब‍िक, पहले ढाई साल भूपेश बघेल इस पद पर काब‍िज रहेंगे और बाद के ढाई साल टी एस स‍िंहदेव मुख्‍यमंत्री पद पर काब‍िज होंगे. हालांकि इस बात में क‍ितनी सच्‍चाई है ये तो 17 जून को पता चलेगा लेक‍िन इससे पहले ही वहां की राजनीत‍ि इन द‍िनों गरमा गई है. इधर टीएस समर्थक अचानक सोशल मीडिया में सक्रिय हो गए हैं, सोशल मीडिया में अचानक टीएस सिंहदेव की कैम्पेनिंग तेज़ होने से कयास ऒर अटकलों के बाजार गर्म है।

क्‍या कहना है टीएस स‍िंहदेव का….

इस मामले में मंत्री टीएस सिंह देव का साफ कहना है कि ऐसी चर्चाएं होती रहती है, इन्हे होने दीजिए. उन्होंने कहा कि राजनीति में लिखित कुछ भी नहीं होता है, व्यावहारिकता की बातें होती हैं। मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि छत्तीसगढ़, पंजाब नहीं है, छत्तीसगढ़ अपने हिसाब से चलेगा। हाईकमान के निर्णय के हिसाब से हम सब साथ काम कर रहे हैं। आलाकमान के मार्गदर्शन में हम साथ में काम करते रहेंगे। आलाकमान जो भी जिम्मेदारी देगी, हम निभाते रहेंगे। वहीं पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर के एक ट्वीट पर टीएस सिंह देव ने कहा कि 17 जून तो आ ही रहा है. शीर्ष नेतृत्व जैसी जिम्मेदारी देगा, निभाते रहेंगे. बता दें कि इससे पहले भी मंत्री सिंहदेव ने इस मुद्दे को लेकर कहा था कि त्री टीएस पार्टी हाईकमान जो तय करेगा वही होगा। कोई बात मन में नहीं रखनी चाहिए।

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर का ट्वीट

उधर बीजेपी ढाई-ढाई साल के मुख्यमंत्री के फार्मूले को लेकर चुटकी लेते नजर आ रही है. पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने भी कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के बयान के बाद एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस की स्थिति भी 17 जून के बाद पंजाब जैसी ही होगी.

क्‍या बोले थे कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे

कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने गुरुवार को कहा था क‍ि छत्तीसगढ़ सरकार में मुख्यमंत्री का कार्यकाल ढाई-ढाई साल करने का ना तो कोई फार्मूला है, ना ऐसी कोई चर्चा है और ना ऐसा कुछ होने वाला है. चौबे ने आगे कहा कि कांग्रेस की सरकार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में अपना कार्यकाल पूरा करेगी. वे सरकार का मुख्य चेहरा हैं और उनके नेतृत्व में सरकार 20 साल से ज्यादा राज करेगी.

ढाई-ढाई साल के कथित फॉर्मूले पर बघेल ने द‍िया था यह जवाब

छत्तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने हाल में प्रदेश के नेताओं की बयानबाजी पर तो अभी तक कोई प्रत‍िक्रिया नहीं दी है, लेक‍िन एक मीडिया इंटरव्यू में जब 12 द‍िसंबर 2020 को जब मुख्यमंत्री पद के ढाई-ढाई साल के कथित फॉर्मूले को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सवाल पूछा गया था. तब उन्‍होंने कहा था क‍ि इस तरह की चर्चा मनगढ़ंत है साथ ही यह भी कहा कि जो भी इस तरह की बातों को हवा दे रहे हैं, उन्हें प्रदेश के विकास से दिक्कत है। ऐसे लोगों को सचेत रहना चाहिए। आलाकमान के निर्देश पर वह तत्काल इस्तीफा दे देंगे. बघेल ने कहा था क‍ि अभी मैं आपसे बात कर रहा हूं और आलाकमान का निर्देश आता है कि इस्तीफा दे दो तो मैं इस्तीफा दे दूंगा. (पार्टी) हाईकमान के निर्देश पर यह जिम्मेदारी मैंने ली है. हाईकमान बोले तो मैं तत्काल इस्तीफा दे दूंगा. उन्होंने दावा किया कि उन्हें इस पद का मोह नहीं है. उन्हें जो जिम्मेदारी दी गई है उस पद का वह निर्वहन कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि इस प्रकार से गलतफहमी पैदा करने वाले लोग प्रदेश का हित नहीं कर रहे हैं. बघेल ने कहा कि जिन लोगों को छत्तीसगढ़ का विकास होते हुए देखने में तकलीफ हो रही है, वह लोग इस प्रकार की बातें कह रहे हैं.

Sahu Ashish

आशीष साहू ने लिखने-पढ़ने की अपनी अभिरुचि के चलते पत्रकारिता का रास्ता चुना। पत्रकारिता में डिप्लोमा हासिल करने के बाद जुलाई 2012 में दैनिक हिंदी हरिभूमि में बतौर ट्रेनी सब एडिटर दाखिला हो गया | वहां के बाद अक्टूबर 2016 से सीजी न्यूज़ 24 डॉट कॉम टीम का हिस्सा बन गए। यहां फिलहाल संपादक के पद पर तैनाती है। बिलासपुर के रहने वाले हैं और शुरुआती पढ़ाई वहीं हुई। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय से कम्प्यूटर में स्नातक की डिग्री है। साहित्यिक अभिरूचियां हैं। कविता-उपन्यास पढ़ना पसंद है। इतिहास के विषय पर बनी फिल्में देखने में दिलचस्पी है। थोड़ा-बहुत गीत-संगीत की दुनिया से भी वास्ता है।
Back to top button
close