पॉलिटिकल कैफे पॉलिटिकल पंच

JCCJ को क्षेत्रीय दल के रूप में चुनाव आयोग से मिली मान्यता, अविभाजित मध्यप्रदेश में 82 वर्ष बाद मान्यता पाने वाली पहली पार्टी……पार्टी सिम्बल “हल चलाता किसान” भी आरक्षित

- विज्ञापन-

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी को क्षेत्रीय पार्टी के रूप में भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से मान्यता मिल गयी है। जनता कांग्रेस को यह मान्यता विधानसभा चुनाव 2018 के प्रदर्शन के आधार पर मिली है | इसके साथ ही पार्टी का चुनाव चिन्ह “हल चलाता किसान” पूरे प्रदेश में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के लिए आरक्षित कर दिया गया है।

भारत निर्वाचन आयोग कि तरफ से जनता कांग्रेस को क्षेत्रीय पार्टी के रूप में मान्यता मिलने के बाद पार्टी के नेता अमित जोगी ने कहा कि आज का दिन छत्तीसगढ़ के लिए बहुत ही बड़ा दिन है। इसके साथ ही अमित जोगी ने बताया कि अखंड मध्यप्रदेश में सन 1936 से चुनाव होते आ रहे हैं। अविभाजित मध्यप्रदेश में पूर्व में स्वर्गीय श्री खुबचंद बघेल (1970-80), स्वर्गीय श्री विद्याचरण शुक्ला (2003 -2004) और स्वर्गीय श्री तारचंद साहू (2008-2012) ने क्षेत्रीय दल बनाने की कोशिश करी पर उसमें वे सफल नहीं हो सके।

अमित जोगी ने बताया कि पिछले माह हुए चुनावों में छत्तीसगढ़ की जनता के आशीर्वाद से और पार्टी कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत के परिणाम स्वरूप अजीत जोगी के नेतृत्व में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) 5 सीटें जीतने में सफल रही, साथ ही हमारा महागठबंधन ने प्रदेश में लगभग 14% वोट शेयर हासिल किया। इसी प्रदर्शन की वजह से अविभाजित मध्यप्रदेश के इतिहास में पहली बार 82 वर्षों बाद किसी क्षेत्रीय दल को चुनाव आयोग द्वारा मान्यता दी गयी है।

बता दें कि इस बार विधानसभा चुनाव छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ने बसपा से गठबंधन कर के चुनाव लड़ा था, था जिसमें उनके पार्टी को 7 विधानसभा सीटों पर जीत मिला था |

जनता कांग्रेस सुप्रीमों अजीत जोगी ने इस उपलब्धि के लिए छत्तीसगढ़ की जनता का धन्यवाद दिया है, और जनता को आश्वस्त किया है कि उनकी पार्टी “छत्तीसगढ़ प्रथम” के सिद्धांत पर चलते हुए जनता के हितों की लड़ाई हमेशा लड़ती रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *