पॉलिटिकल कैफे हल्लाबोल

आज शाम तय हो जाएगा छत्तीसगढ़ के CM का नाम!….महंत और ताम्रध्वज साहू CM रेस से हुए बाहर, इन दो नामों में से एक पर होगी ताजपोशी….राहुल गाँधी के घर तीनों राज्य के मुख्यमंत्री को लेकर मंथन शुरू

छत्तीसगढ़ में 15 साल बाद कांग्रेस की बड़ी जीत के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री का चयन करने के लिए कांग्रेस के विधायक दल की बैठक के बाद अब मुख्यमंत्री के नाम पर आखिरी मुहर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी लगाएंगे |  बैठक समाप्त होने के साथ ही प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री के नामों का पैनल लेकर भारतीय कांग्रेस कमेटी के पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया, प्रभारी सचिव चंदन यादव और अरुण उरांव आज राहुल गाँधी को सौंप देंगे | जिसके बाद उन नामों में से एक नाम का राहुल गाँधी के सहमति के बाद ऐलान कर दिया जायेगा |

– विज्ञापन –

बता दें कि  कांग्रेस विधायक दल की इस महत्वपूर्ण बैठक में नवनिर्वाचित विधायकों के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया, प्रभारी सचिव चंदन यादव और अरुण उरांव की मौजूदगी में विधायक दल की बैठक हुई, बैठक में सकती विधायक चरणदास महंत ने पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव के नामों का प्रस्ताव लेकर आए, जिसका समर्थन ताम्रध्वज साहू ने किया | जिसके बाद उक्त दोनों नामों में मुख्यमंत्री के नाम का फैसला के लिए विधायकों ने आलाकमान पर छोड़ दिया |

अब इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि मुख्यमंत्री पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव दोनों में से एक नाम पर ही मुहर लगेगी | राज्य में कांग्रेस को 15 वर्षों के बाद बड़ी जीत दिलाने में नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल की भूमिका को महत्वपूर्ण माना जा रहा है. सिंहदेव और बघेल मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं, सिंहेदव ने अंबिकापुर से और बघेल ने पाटन से जीत हासिल की है |

बैठक के बाद पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में विववाद कि कोई स्थिति नहीं है, हम सभी नेता एक साथ हैं, पार्टी नेतृत्व का फैसला सभी को मजूर होगा | इसी तरह से टीएस सिंहदेव ने मीडिया से चर्चा पार्टी नेतृत्वका फैसला सभी को स्वीकार होगा, नारेबाजी या कोई अप्रिय घटना नहीं होगी | देरशाम तक सीएम के नाम की घोषणा कर दी जाएगी |

बता दें उधर दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के घर सोनिया गांधी पहुँच चुकी है, छत्तीसगढ़ समेत मध्यप्रदेश और राजस्थान के मुख्यमंत्री के नामों पर मंथन शुरु हो चूका है | वैसे मध्यप्रदेश से सिंगल नाम कमलनाथ का भेजा गया है, वहां मुख्यमंत्री के नाम पर किसी प्रकार का विवाद नहीं है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *