पॉलिटिकल कैफे हल्लाबोल

PCC चीफ भूपेश के चुनाव आयोग पर साधा निशाना ….EVM बदलने की जताई आशंका…..ना तो अधिकारी-कर्मचारी आदेश मान रहे, ना ही शिकायतों पर सुनवाई….सत्ता पाने BJP कर सकती है षड़यंत्र

- विज्ञापन-

छत्तीसगढ़ में काउंटिंग की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है, राजनीतिक पार्टियों की बीच घमासान बढ़ता जा रहा है | आज एकबार फिर कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग पर निशाना साधा है | पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने प्रेस कांफ्रेंस लेकर निर्वाचन आयोग की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि निर्वाचन आयोग कांग्रेस की शिकायतों पर ध्यान नहीं दे रही है, ना ही आयोग जानकारी उपलब्ध करा रही है | भूपेश बघेल ने कहा कि स्ट्रांग रूम में जो भी गलती कर रहे हैं, जिसको सुरक्षा की जिम्मेदारी दो गयी है उनपर तत्काल कार्यवाही होनी चाहिए।

इस दौरान उन्होंने कहा कि जहां ईवीएम मशीनों को रखा गया है वहीं उनके साथ एक्स्ट्रा मशीनों को भी रखा गया है। इससे मतगणना केंद्र में ईवीएम मशीनों को ले जाते समय बदलने की संभावना है। भूपेश ने आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में सूचना अधिकारियों द्वारा बताए जा रहे आंकड़े और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा बताए जा रहे आंकड़े काफी अलग—अलग हैं। इन आंकड़ों में करीब 47 हजार का अंतर है।

भूपेश बघेल का कहना है कि हमारी सतर्कता के बावजूद स्थिति ऐसी है ना जाने हम ध्यान न देते तो क्या स्थिति रहती। भाजपा बेईमानी के सारे हथकंडे अपना रही है। स्ट्रांग रूम से मतगणना हाल में ले जाते वक्त ईवीएम मशीन बदलने की संभावना बनी रहेगी । भूपेश ने कहा कि मतदान के बाद से ही निर्वाचन कार्यालय में शिकायते की, स्ट्रांग रूम में ईवीएम के साथ खराब मशीनों को भी रखी गई है । एजेंटो को जो मतदान पत्रक है वही मिला है और निर्वाचन आयोग से कोई भी जानकारी नहीं मिली है।
बघेल ने कहा कि धमतरी में जिस तरीके से कलेक्टर ने लापरवाही की थी, हमारी शिकायत के बाद तहसीलदार को निलंबित किया गया, लेकिन कलेक्टर पर कोई कार्रवाई नहीं हुई |

बालोद से भी शिकायतें आई है, कल रात में दुर्ग में छह विधानसभा के सीसीटीवी कैमरे बंद हो गए थे, इसे लेकर कोई जवाब नहीं दिया जा रहा,  बेमेतरा में स्ट्रांग रूम की सुरक्षा जिनके जिम्मे दी गई है, वही सुरक्षाकर्मी लैपटॉप लेकर पाए गए, तत्काल उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार किया जाना चाहिए, यह स्थिति तब है जब हम नजर बनाए हुए हैं. लगातार घटनाएं घट रही है |
बेमेतरा में भी जिसे जिम्मेदारी दी गई थी सुरक्षा की वो ही लैपटॉप ले कर गए है, ऐसे में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार करना चाहिए, पर अब तक कुछ भी नही हुआ है।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के छक्का मारने के बयान पर भूपेश ने कहा मुख्यमंत्री जी छक्का मारने की बात कर रहे हैं । हालांकि अब उनकी उम्र नहीं है छक्का मारने की । लगता है बहुमत और 65 सीटों की बात वह भूल गए हैं ।
भूपेश ने आरोप लगाया कि भाजपा के लोग षड़यंत्र करने से बाज नहीं आ रहे हैं | भाजपा को लोकतंत्र में विश्वास नहीं है तभी तो वह लगातार साजिशें रच रही है । भाजपा को सिर्फ सत्ता चाहिए और इसके लिए वह कुछ भी कर सकती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *