न्यूज़ ब्रेकिंग न्यूज़

डॉ रमन सिंह के PA ओपी गुप्ता जेल भेजे गए, 16 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में….सामाजिक कार्यकर्ता ने SSP से OP की पत्नी को भी आरोपी बनाने की मांग

नाबालिग लड़की से रेप के आरोपी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के पीए ओपी गुप्ता को रायपुर पुलिस ने गुरुवार को फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया, मामले की सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपी को 16 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश सुनाया है, मालूम हो कि नाबालिग युवती से यौन उत्पीड़न के आरोपी ओम प्रकाश गुप्ता को एडीजे राधिका सैनी की फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया गया, हालांकि अभी तक खुद पर लगे आरोपों पर ओपी गुप्ता ने पूरे तरीके से चुप्पी साध रखी है, इस मसले पर उन्होंने कुछ भी कहने से साफ इंकार कर दिया है |

– विज्ञापन –

इस मामले में सामाजिक कार्यकर्ता ममता शर्मा ने एसएसपी को पत्र लिखकर मांग की है कि आरोपी की पत्नी को भी इस मामले में सह आरोपी बनाते हुए गिरफ्तार किया जाए। पत्र में कहा गया है कि पत्नी को सहआरोपी बनाने के साथ ही जिन स्थानों पर आपराधिक गतिविधियां हुई हैं, उन्हें सीज किया जाना चाहिए, ताकि प्रमाण और साक्ष्यों को प्रभावित न किया जा सके।

- विज्ञापन-

बता दें कि छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह  के काफी लंबे समय तक निजी सहायक रहे ओपी गुप्ता को पुलिस ने नाबालिग लड़की के यौन उत्पीड़न  के मामले में गिरफ्तार कर लिया है, बुधवार देर रात महिला थाना पुलिस ने गुप्ता को उसके घर से हिरासत में लिया, कार्रवाई करते हुए गुरुवार को पुलिस ने रेप के आरोपी ओपी गुप्ता को मेडिकल चेकअप के लिए जिला अस्पताल लाया. बताया जा रहा है कि मेडिकल चेकअप के बाद उसे जुडिशियल रिमांड पर कोर्ट में पेश किया, कोर्ट में मामले की सुनवाई के बाद फैसला सुनाया गया |

एएसपी प्रफुल ठाकुर के मुताबिक आरोपी ने लड़की को शादी का प्रलोभन दिया था, आरोप है कि 2016 से 2018 के बीच कई बार ओपी गुप्ता ने नाबालिग लड़की के साथ अनाचार किया, पीड़ित लड़की ने एक एनजीओ के माध्यम से इस मामेल की शिकायत पुलिस से की, शिकायत के बाद कार्रवाई करते हुए महिला थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *