पॉलिटिकल कैफे हल्लाबोल

पूर्व IAS ओपी चौधरी के खिलाफ आदिवासियों ने की राज्यपाल से शिकायत, भूमि अधिग्रहण के नाम पर आदिवासियों से छल करने का लगाया आरोप

भाजपा नेता व पूर्व आईएएस ओपी चौधरी के खिलाफ आदिवासियों ने राज्यपाल अनुसुइया उइके से शिकायत की है, आदिवासियों ने जवांगा में भूमि अधिग्रहण के नाम पर ओपी चौधरी द्वारा छल करने की शिकायत की है। दर्जनभर आदिवासियों ने राज्यपाल से मिलकर हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन सौंपा है, आदिवासियों का कहना है कि जावंगा में भूमि अधिग्रहण के नाम पर आदिवासियों से छल हुआ है, अधिकार मांगने पर पुलिसिया कार्रवाई करने की धमकी दी गई, जावंगा में भूमि अधिग्रहण के दौरान ओपी चौधरी तात्कालिक दंतेवाड़ा कलेक्टर थे ।

– विज्ञापन –

बता दें कि चौधरी पर आरोप है कि दंतेवाड़ा की सुरभि कालोनी के 41 बंधक प्लॉट नियम विरुद्ध मुक्त किए गए। इन प्लाट्स की कीमत 2.5 करोड़ रुपए से भी अधिक है। सुरभि कालोनी 8 एकड़ में बनी है। 2005 में इस कॉलोनी का लाइसेंस जारी हुआ था। तब कालोनी की 15 फीसदी भूमि गरीब वर्ग के लिए आरक्षित थी। इस भूमि के 41 प्लॉट दंतेवाड़ा नगर पालिका के पास बंधक थे। आरोप है कि फर्जी समिति और एनओसी के जरिए बंधक भूमि को मुक्त कराकर बेच दिया गया।

- विज्ञापन-

ओपी चौधरी का जब दंतेवाड़ा से ट्रांसफर हुआ तो बाद में उनकी जगह आए दंतेवाड़ा के कलेक्टर केसी देवसेनापति ने मामले की जांच कराई । जांच रिपोर्ट नगर प्रशासन विभाग को भेजी गई पर तब कोई कार्रवाई नहीं हुई। उस रिपोर्ट में कालोनाइजर पर एफआइआर दर्ज करने और नगरपालिका के तत्कालीन सीएमओ को निलंबित करने की सिफारिश की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *