द बाबूस न्यूज़ बाबूस ऑफ़ छत्तीसगढ़

कलेक्टर रानू ने की ग्राउंड जीरो से पड़ताल…कलेक्टर समेत पुरे जिले के अफसर एक ही बस में सवार होकर पहुंचे वनंाचल ग्राम नलकसा….चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं से हुई रूबरू

अगर कभी न हार मानने का जुनून हो और कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो कोई भी काम नामुमकिन नहीं है। कुछ इसी तरह की मिसाल बालोद कलेक्टर रानू साहू दे रही हैं | एकबार फिर ग्राम भ्रमण कार्यक्रम के तहत कलेक्टर रानू साहू जिला स्तर के अफसरों के साथ एक ही बस में सवार होकर डौण्डी विकासखण्ड के वनंाचल ग्राम नलकसा पहुंचे। वहां उन्होंने कलामंच में चैपाल लगाई और एक-एक कर ग्रामीणों की समस्याओं से रू-ब-रू हुई । कलेक्टर ने ग्राम विकास के संबंध में भी ग्रामीणों से चर्चा की ।

– विज्ञापन –

इस दरों ग्रामीणों ने पेयजल हेतु नलजल योजना कार्य को पूरा कराने, सड़क निर्माण कराने, स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्मित शौचालय निर्माण की राशि कुछ हितग्राहियों का शेष है, उसे दिलाने, पशु शेड निर्माण कार्य पूरा कराने आदि की माॅग की। कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित संबंधित अधिकारियों को निरीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त ग्रामीणों ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन, दिव्यांग प्रमाण पत्र, प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने आदि से संबंधित आवेदन कलेक्टर को सौंपे। कलेक्टर ने श्रम विभाग की योजना के अंतर्गत तेरह हितग्राहियों को सुरक्षा उपकरण किट, उद्यान विभाग की योजना के अंतर्गत दो हितग्राहियों को लौकी सीड प्रदान किया। महिला एवं बाल विकास विभाग की योजना के अंतर्गत दो बच्चों का अन्नप्रासन संस्कार कराया।

- विज्ञापन-

कलेक्टर ने अधिकारियों और ग्रामीणों के साथ गाॅव का पैदल भ्रमण कर आंगनबाड़ी केन्द्र व स्कूल का निरीक्षण और ग्राम स्तर पर योजनाओं के क्रियान्वयन का जायजा लिया। ग्राम नलकसा में जल संरक्षण हेतु हैण्डपम्पों के आसपास तथा अन्य स्थानों में बनाए गए सोकपिट का अवलोकन किया। ग्रामीणों द्वारा घरों में भी सोकपिट बनाए जाने की जानकारी पर कलेक्टर ने जल संरक्षण हेतु जागरूकता पर ग्रामीणों की सराहना की। कलेक्टर ने गाॅव के सीमेंट कंाक्रीट सड़क का भी अवलोकन किया। उन्होंने वहाॅ के तालाब का अवलोकन किया और ग्रामीणों द्वारा तालाब में पचरी निर्माण की माॅग किए जाने पर जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को पचरी निर्माण हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत निर्माणाधीन आवासों का भी अवलोकन किया और हितग्राहियों से चर्चा की।

कलेक्टर ने ग्राम नलकसा के वन अधिकार पत्र धारक हितग्राहियों के खेतों का अवलोकन किया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों ने बताया कि गाॅव के पन्द्रह वन अधिकार पत्र धारक हितग्राही खेती कर रहे हैं।  कुल रकबा पचास एकड़ है। महात्मा गाॅधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत उनकी भूमि का सुधार कराया गया है। वर्तमान में वे धान की फसल ले रहे हैं। आठ हितग्राहियों के खेतों में मछली पालन हेतु डबरी निर्माण कराया गया है। तेरह हितग्राहियों के कुछ पड़त भूमि में उद्यान विभाग के सहयोग कटहल, जामुन, अमरूद, आम, नीबू आदि फलदार पौधे लगाए गए हैं। कलेक्टर ने वन अधिकार पत्र धारक हितग्राहियों की माॅग पर सिंचाई सुविधा हेतु सौर सुजला पम्प स्थापित कराने के निर्देश के्रडा विभाग के अधिकारी को दिए। उन्होंने हितग्राही किसानों को उन्नत खेती कर अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया।

कलेक्टर ने गांव के अंागनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण कर बच्चों से नाश्ता तथा गरम भोजन मिलने की जानकारी ली । बच्चों ने कलेक्टर को कविता सुनाई। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों की शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए । उन्होंने अंागनबाड़ी केन्द्र परिसर में आम का पौधा लगाकर ग्रामीणों को वृक्षारोपण के लिए प्रोत्साहित किया । उन्हेांने वहां शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला पहुॅचकर शिक्षकों तथा छात्र-छात्राओं की उपस्थिति की जानकारी ली । कलेक्टर ने छात्र-छात्राओं से सामान्य ज्ञान के सवाल पूछे और छात्र-छात्राओं द्वारा सही जवाब देने पर कलेक्टर ने उनकी सराहना की । कलेक्टर ने स्कूल परिसर को स्वच्छ रखने तथा जिम्मेदारीपूर्वक अध्यापन कार्य कराने के निर्देश शिक्षकों को दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *