पॉलिटिकल कैफे हल्लाबोल

Breaking : छत्तीसगढ़ की राजनीति में भूचाल लाने वाले मंतूराम पवार की BJP से छुट्टी, पार्टी हाईकमान ने जारी किया निष्कासन आदेश….पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने दिए थे संकेत

छत्तीसगढ़ के सियासी गलियारे में एक बार फिर से विस्फोट करने वाले मंतूराम पवार को बीजेपी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है | बीजेपी संगठन मंतूराम पवार को पार्टी से बाहर निकालने का फैसला ले ली है | पार्टी विरोधी गतिविधि के आरोप में मंतूराम पवार को भाजपा ने प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने मंतूराम पवार की निष्कासन का आदेश जारी किया है ।

– विज्ञापन –

अंतागढ़ टेपकांड से दुरी बनाकर चलने वाले 15 सालों तक छत्तीसगढ़ के मुखिया रहने वाले डॉ. रमन सिंह का नाम अंततः अंतागढ़ टेपकांड मामले में सामने आ ही आया है, मंतूराम पवार ने कोर्ट को दिए लिखित बयान में पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह पर सीधे आरोप लगाए हैं, मंतूराम ने कहा कि उन्हें अंतागढ़ उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी बनाए जाने के बाद बड़े नेताओं ने संपर्क किया, इसमें पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह, अजीत जोगी, अमित जोगी के नाम भी शामिल हैं | साढ़े 7 करोड़ रुपये का लालच देकर उनकी नाम वापसी कराई गई | इस मामले में पूरा लेनदेन तत्कालीन मंत्री राजेश मूणत के घर में हुई थी |

- विज्ञापन-

मंतूराम के आरोप पर डॉ. रमन सिंह का कहना है कि कि मंतूराम पवार को दिव्य ज्ञान दिया गया, उसके बाद वो उनपर झूठा आरोप लगा रहे हैं | इसी मामले में ईडी से शिकायत पर रमन सिंह ने कहा कि जब मंतूराम खुद कह रहा है कि उसे एक रुपये भी नहीं मिला तो शिकायत कैसी? केस जो बनाया है उसकी भूमिका को ही समाप्त करने का काम कर रहे हैं, उन्होंने यह भी कहा कि मंशा साफ नजर आ रही है कि दंतेवाड़ा चुनाव में कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है, उन्हें लगता है कि डॉ. रमन सिंह को निशाना बनाया जाए, जिससे आने वाले दिनों में कोई दिक्कत ही ना हो |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *